Home / aam-budget-in-hindi / [Budget] आम बजट 2018

[Budget] आम बजट 2018

आम बजट 2018| भारत सरकार आम बजट 2018|आम बजट 2018 pdf|केंद्रीय बजट 2018|यूनियन बजट  2018|

भारत के प्यारे देशवासियों आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से को 2018 के बारे में बताएंगे| लोगों को बेसब्री से आम बजट 2018 का इंतजार था| दोस्तों आप जानते ही होंगे आम बजट पूरे भारत का एक बजट होता है| कितने किसानों के लिए आम जनता के लिए और सभी भारत के लिए कुछ ना कुछ नई योजनाएं और नए कानून के बारे में आम बजट मैं बताया जाता है| आम बजट के आने से भारत जनता के लिए क्या कुछ नया होगा यह सब जानने के लिए लोगों को बेसब्री से इंतजार था अब उन सभी का इंतजार खत्म होगा क्योंकि केंद्रीय बजट 2018 आ चुका है आप इस आर्टिकल के माध्यम से यूनियन बजट 2018 मैं जान सकते हैं|

इस आम बजट को भारत के वित्त मंत्री जेटली जी इस आम बजट को बताएंगे कि इस आम बजट में नहीं योजनाएं और क्या कुछ होने वाला है| इस आम बजट में आपको पता चलेगा कि रेल यात्रा सस्ती या महंगी और गोल्ड के बारे में भी पता चलेगा| इस आम बजट में 10 ग्राम गोल्ड के नए दाम 10 ग्राम चांदी के नए भाग और कर्मचारी क्षेत्रों और किसानों के लिए क्या इस बजट में आने वाला है जानकारी आपको आम बजट में मिलेगी|

प्यारे दोस्तों आप हमारे इस आर्टिकल को विस्तार पूर्वक पढ़िए कल मैं आपको आम बजट 2018 भारत सरकार के बजट हमें बताएंगे कि मोदी जी और वित्त मंत्री अरुण जेटली जी क्या के बजट 2018 लेकर आए हैं| आप हमारे इस आर्टिकल के माध्यम से आम बजट 2018 की PDF फाइल डाउनलोड कर सकते हैं| इस आम बजट में आपको यह भी पता चलेगा कि बैंक के लेनदेन और उससे जुड़ी ऋण ब्याज दरें क्या होंगी|

आम बजट 2018 के लाभ

  • आम बजट से जनता के लिए एक जैसा पूरे भारत में कानून बनता है|
  • इस आम बजट से भारत सरकार क्या नई योजनाएं आई है इसके बारे में जानकारी मिलती है|
  • इस आम बजट में पता चलता है कि आने वाले समय में चीज महंगी और सस्ती होगी|

 


लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स 10 फीसदी देना होगा। शेयर खरीदने और बेचने पर लगेगा यह टैक्स। शिक्षा और स्वास्थ पर एक फीसदी सेस बढ़ा। सेस 3 फीसदी से बढ़कर 4 फीसदी हुआ। कस्टम ड्यूटी बढ़ेगी। मोबाइल और टीवी महंगे होंगे। 

 इनकम टैक्स की दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया है, जिससे मिडिल क्लास को कोई फायदा नहीं मिलेगा। आमदनी में से 40 हजार रुपये घटाकर लगेगा टैक्स। यानि जितनी आमदनी है उसमें 40 हजार घटाकर टैक्स लगेगा। 40 हजार रुपये तक स्टैंडर्ड डिडक्शन मिलेगा। नौकरी पेशा को कोई छूट नहीं मिलेगी। डिपॉजिट पर मिलने वाली छूट 10 हजार से बढ़ाकर 50 हजार हुई। सीनियर सिटीजन को राहत दी गई है। 

 सरकार को 2017-18 में 5.95 लाख करोड़ का घाटा हुआ। अभी जीडीपी का 3.5 फीसदी सरकारी घाटा काले धन के खिलाफ मुहिम का असर दिखा है। टैक्स देने वाले 19.25 लाख बढ़े, डायरेक्ट टैक्स का कलेक्शन 12.6 फीसदी हुआ। इनकम टैक्स कलेक्शन 90 हजार करोड़ बढ़ा। 

राष्ट्रपति और राज्यपाल का वेतन बढ़ेगा। राष्ट्रपति का वेतन 5 लाख रुपये होगा और राज्यपाल का वेतन 3.5 लाख होगा। उपराष्ट्रपति का वेतन 4 लाख रुपये होगा।  

जेटली ने कहा कि बिटक्वाइन जैसी करेंसी नहीं चलेगी। आधार से जरूरतमंद लोगों को फायदा मिला है। आधार से लोगों को जरूरी सेवाओं का लाभ मिला। 2 सरकारी बीमा कंपनियां शेयर बाजार में आएंगी। सरकारी कंपनियों के शेयर बेचकर 80 हजार करोड़ जुटाएंगे। नई नीति से सोना लाने और ले जाने में आसानी होगी। 

 रेलवे पर 1 लाख 48 हजार करोड़ रुपये खर्च करेगी सरकार, 600 स्टेशन आधुनिक बनेंगे। एयरपोर्ट की संख्या पांच गुना करने की कोशिश है। अभी 124 एयरपोर्ट से फ्लाइट्स उड़ रही है। 3600 नई रेल लाइन बिछाने का लक्ष्य है। मुंबई में लोकल ट्रेन के लिए खास योजना बनायी जायेगी। एस्कलेटर और कैमरे लगाए जाएंगे। 

 धार्मिक पर्यटन शहरों के लिए हेरिटेज सिटी योजना बनेगी।  स्मार्ट सिटी के लिए 99 शहरों को चुना गया। 100 स्मारकों को आदर्श बनाया जायेगा। 

 सरकार ने 70 लाख नई नौकरियों का वादा किया।  नये कर्मचारियों के EPF में 12 फीसदी का योगदान देगी सरकार 

 1200 करोड़ रुपये हेल्थ वेलनेस सेंटर के लिए दिए जाएंगे। जिसमें 10 करोड़ गरीब परिवार को 5 लाख रुपया सालाना दिया जायेगा। 50 करोड़ लोगों को हेल्थ बीमा मिलेगा। देश की 40 फीसदी आबादी को हेल्थ बीमा मिलेगा। 24 नए मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे।  एक परिवार को एक साल में 5 लाख रुपये का इलाज कराने की सुविधा मिलेगी। टीबी मरीज को हर महीने 500 रुपये की मदद देंगे। 5 लाख स्वास्थ सेंटर खोले जाएंगे। 

 जेटली ने कहा कि 1200 करोड़ रुपये हेल्थ सेक्टर के लिए रखे जाएंगे। इलाज न मिलने की वजह  से किसी की जान नहीं जायेगी। 

 जेटली ने कहा कि सरकार शिक्षा के क्षेत्र में बड़ा काम करेगी। प्री नर्सरी से 12वीं तक हम सबकों शिक्षा देंगे और इसमें एक ही नीति अपनाई जायेगी। साथ ही डिजिटल पढ़ाई को भी बढ़ावा दिया जायेगा। सभी बच्चों को स्कूल पहुंचाना हमारा लक्ष्य होगा। आदिवासियों के लिए एकलव्य स्कूल होगा। वडोदरा में रेलवे यूनिवर्सिटी बनायी जायेगी। 

जेटली ने कहा कि दिल्ली में प्रदूषण से निपटने के लिए स्कीम लाई गयी। पराली से होने वाले धुंए से निपटने के लिए स्कीम बनायी गयी। 

जेटली ने कहा कि इस साल 2 करोड़ शौचालय बनाए जाएंगे, पीएम आवास योजना के तहत घर दिये जाएंगे, 2022 तक हर नागरिक को घर देंगे। 51 लाख नए घर बनाए जा रहे हैं। 8 करोड़ महिलाओं को मुफ्त गैस कनेक्शन दिये। 4 करोड़ घरों में सौभाग्या योजना के तहत बिजली दी। 

 सभी फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य मिलेगा। समर्थन मूल्य को 1.5 गुना बढ़ाने का ऐलान किया गया।

 जेटली ने कहा कि आलू, टमाटर और प्याज के लिए ऑपरेशन ग्रीन होगा जिसके लिए 500 करोड़ रुपये दिये जाएंगे। 42 मेगा फूड पार्क बनाए जाएंगे। 1290 करोड़ रुपयों से बांस मिशन चलाया जायेगा। बांस को वन क्षेत्र से अलग किया गया है। 

 जेटली ने कहा कि गरीबों को मुफ्त डायलिसस की सुविधा मिल रही, पासपोर्ट 2-3 दिनों में मिल रहा। नया ग्रामीण बाजार ई-नैम बनाने का ऐलान किया। 

 जेटली ने कहा कि किसानों को लागत का डेढ़ गुना मिलेगा। खरीफ का समर्थन मूल्य उत्पादन लागत से डेढ़ गुना होगा। उन्होंने कहा कि 30 करोड़ टन फलों का उत्पादन हुआ। उन्होंने कहा कि 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करेंगे। 

 जेटली ने कहा कि सर्विस सेक्टर में 8 फीसदी की तरक्की मिली है। गरीबों को उज्जवला योजना के तहत लाभ दिया गया। हमारा जोर गांवों के विकास पर है। ईज ऑफ लिविंग पर जोर दिया जा रहा है। हम चाहते हैं कि लोगों के जीवन में सरकारी दखल कम हो।

प्यारे दोस्तों आम बजट 2018 की जानकारी किस प्रकार लगी अगर आप इससे संबंधित कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं तो हमारे कमेंट बॉक्स पर लिख दीजिए हम उसका उत्तर अवश्य देंगे आप हमारे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर कर सकते हैं भारत की चुनाव के साथ अपडेट रहेंगे|

About Vivek Dutta

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!