Home / uttara khand / उत्तराखंड विकलांग पेंशन योजना| ऑनलाइन आवेदन|handicap pension scheme uttrakhand in hindi/

उत्तराखंड विकलांग पेंशन योजना| ऑनलाइन आवेदन|handicap pension scheme uttrakhand in hindi/

उत्तराखंड विकलांग पेंशन योजना | ऑनलाइन आवेदन |विकलांग पेंशन योजना उत्तराखंड|विकलांग जन पेंशन|विकलांग पेंशन योजना|

उत्तराखंड के प्यारे देशवासियों आपको जानकर बेहद खुशी होगी किया तो विकलांग लोगों को भी उत्तराखंड सरकार की तरफ से पेंशन भी दी जाएगी राजस्थान सरकार ने फैसला उत्तराखंड के विकलांग लोगों को आत्म निर्भर बनाने के लिए लिया है ताकि विकलांग लोग किसी पर बोझ ना बन सके और अपना दैनिक खर्च कर सकें राजस्थान  सरकार ने विकलांग लोगों को 1000 प्रतिमा पेंशन देने का फैसला लिया है|

आज के समय में विकलांग लोगों के साथ अच्छा व्यवहार नहीं किया जाता इसलिए उत्तराखंड  सरकार ने विकलांग लोगों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए यह फैसला लिया इस योजना का लाभ उन लोगों को मिलेगा जो शारीरिक रूप से विकलांग और किसी अन्य प्रकार से विकलांग है|40 प्रतिशत या उससे अधिक (मुख्य चिकित्साधिकारी, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र/प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के चिकित्सक द्वारा प्रदत्त विकलांगता प्रमाण-पत्र मान्य होगा)।

उत्तराखंड विकलांग पेंशन योजना

उत्तराखंड विकलांग लोगों के लिए गई की पेंशन मैं लोगों को अपने निजी स्वास्थ्य केंद्र में जाना होगा और वहां पर अपनी शारीरिक विकलांगता प्रमाण पत्र लेना पड़ेगा इस पेंशन के लिए वही विकलांग मान्य होंगे जो 40% या इससे अधिक विकलांग लोग होंगे वही इस पेंशन के लिए माननीय किए जाएंगे पंजीकरण शुरू कर दिया है। इस योजना के तहत आवेदक जो शारीरिक रूप से विकलांग हैं उसे सरकार द्वारा पेंशन के रूप में वित्तीय सहायता मिलेगी.  विकलांग योजना के तहत शारीरिक रूप से अक्षम लोगों के लिए सरकार 1000/-रूपये प्रतिमाह प्रदान करेगी विकलांग पेंशन योजना ऑनलाइन आवेदन पत्र आधिकारिक वेबसाइट पर दिए गए हैं

 उत्तराखंड विकलांग पेंशन योजना के लाभ

  • विकलांगों का जीवन स्तर ऊपर उठेगा|
  • विकलांग  लोग निर्भर नहीं रहेंगे|
  • विकलांग लोगों को  आए का साधन मिलेगा|
  •  वह गरीबी से ऊपर उठेंगे|
  • पेंशन से विकलांग लोग आत्मनिर्भर रहेंगे

विकलांग पेंशन योजना के लिए पात्रता

  • आवेदनकर्ता उत्तराखंड का  होना चाहिए |
  • 40 प्रतिशत या उससे अधिक (मुख्य चिकित्साधिकारी, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र/प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के चिकित्सक द्वारा प्रदत्त विकलांगता प्रमाण-पत्र मान्य होगा)।
  • प्रत्यक्ष विकलांगताओं के लिए प्रशिक्षित निजी चिकित्सकों द्वारा प्रदत्त प्रमाण-पत्र भी शासनादेश संख्या-210/65-1-2004-153/2000 दिनांक 23 जनवरी, 2004 में निर्धारित प्रक्रिया के अनुसार  अनुमन्य है।
  • अपंग आवेदक की पारिवारिक आय 48000 रुपये प्रतिमाह से अधिक नहीं होनी चाहिए
  • ऐसे व्यक्ति जो पुराने पेंशन, विधवा पेंशन या कोई अन्य पेंशन जैसी कोई पूर्व पेंशन प्राप्त कर रहे हैं, वे इस पेंशन के लिए पात्र नहीं होंगे।
  • यदि विकलांग व्यक्ति तीन पहिया या चार पहिया या किसी भी वाहन का मालिक है इस पेंशन के लिए योग्य नहीं है।
  • विकलांग लोगों को जो किसी भी सरकारी क्षेत्र में काम कर रहे हैं, इस पेंशन योजना के लाभ लेने के लिए पात्र नहीं हैं।

विकलांग पेंशन योजना के लिए जरूरी कागजात

  •  व्यक्ति विकलांग होना चाहिए
  • उसके पास उत्तराखंड का बोनाफाइड होना चाहिए
  • उसके पास निजी स्वास्थ्य केंद्र का विकलांगता प्रमाणपत्र होना चाहिए
  • मानसिक मन्दित तथा श्रवण बाधित विकलांगताओं के मामलों में राम मनोहर लोहिया संयुक्त चिकित्सालय,  द्वारा प्रदत्त विकलांगता प्रमाण-पत्र भी मान्य
  • रू० 1000/- प्रतिमाह तक (मा० सांसद, मा० विधायक, महापौर, नगर पंचायतों के अध्यक्ष, जिला पंचायतों के अध्यक्ष, तहसीलदार, खण्ड विकास अधिकारी अथवा ग्राम प्रधान द्वारा प्रदत्त आय प्रमाण-पत्र मान्य होगा।)

विकलांग पेंशन योजना में राशि

उत्तराखंड  विकलांग पेंशन योजना के तहत विकलांग लोगों को 1000 प्रतिमाह पेंशन देने का फैसला लिया गया है|ताकि विकलांग लोगों की आर्थिक सहायता की जा सके |और वह आप पर निर्भर हो सके|

भुगतान की प्रक्रिया

6-6 माह की दो किश्तों में प्रथम किश्त माह अप्रैल से सितम्बर तक तथा दूसरी किश्त माह अक्टूबर से मार्च तक । नवीन लाभार्थियों को पेंशन स्वीकृति अतिरिक्त बजट उपलब्ध होने अथवा रिक्ति होने पर जनपद स्तर पर पंजीबद्ध आवेदकों को पात्रता एवं वरीयता क्रम के आधार पर

आवेदन कहॉं करें 

पेंशन हेतु पात्र ग्रामीण व्‍यक्ति निर्धारित प्रपत्र में विकास अधिकारी, पंचायत समिति (जिसमें आवेदन निवास कर रहा है) एवं शहरी क्षेत्र का आवेदन उपखण्‍ड अधिकारी कार्यालय में आवेदन पत्र प्रस्‍तुत कर सकता है। आवेदन पत्र पंचायत समिति, तहसील कार्यालय एवं जिला कलेक्‍टर कार्यालय में नि:शुल्‍क उपलब्‍ध हैं।

विकलांग पेंशन योजना ऑनलाइन आवेदन

  • विकलांग पेंशन योजना ऑनलाइन   आवेदन करने के लिए इस वेबसाइट पर क्लिक करें
  • वेबसाइट पर क्लिक करने के बाद आपको इस तरह का पेज दिखाई देगा|

  • इस वेबसाइट पर क्लिक करने के बाद एप्लीकेशन फॉर्म में पूछी गई जानकारी ध्यानपूर्वक भरिए|
  • सबमिट बटन पर क्लिक करिए|
  • आप का फॉर्म भरा हुआ माना जाएगा

दोस्तों आपको उत्तराखंड  विकलांग पेंशन योजना किस प्रकार कि  लगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं  इससे संबंधित प्रश्न पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का जवाब जरुर देंगे| आप हमारे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर कर सकते हैं|

About Vivek Dutta

Check Also

उत्तरप्रदेश फ्री कोचिंग 2018| ऑनलाइन आवेदन

उत्तरप्रदेश फ्री कोचिंग 2018| ऑनलाइन आवेदन|उत्तरप्रदेश निःशुल्क कोचिंग| यूपी फ्री कोचिंग ऑनलाइन आवेदन|यूपी निःशुल्क कोचिंग|निःशुल्क कोचिंग यूपी|उत्तर प्रदेश मुफ्त कोचिंग योजना  …

6 comments

  1. Yojna to sarkar ne chalayi Hai lekin Kalyan vibhag ke log ese bartav karte Hai jaise ve apni jeb se Paisa de rahe hai.unke subhah ki dhoop sekne ke karya me badha pah gai to unhone ek bujurg admi ka passbook jamin par fek diya.koi thik se batata Tak nahi Hai Kya karna Hai pahle sahkari bank me account kholo bola Tha waha khola waha bhi Koi kuchh nahi batata.pension kaha ayegi kutchch pata nahi.

  2. 2400 सो मिलते 3 महिने?
    यहा हर महा 1000 लिखा

  3. Sir mera viklang certificate kho gya he ab me ise kaise banaun

  4. Nirankarkumar$%rajveersingh

    Sar mere paas uttarpardesh ka handicap sirtepicet hai air me pechley 10/11 saal she haridwar jeliy me narsan khurd me rehta hun me roorke hospital me kai baar ja chuka Lenin docter mera sarfetikat bans nahi raha air u.p me adhar ki bena nahi Mel rahi to kiya mujhe yaha pension nahi Mel sakti agar Mel sakte hai to kaise please mujhe batay

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!