Breaking News
Home / Rajasthan / स्मार्ट विलेज योजना राजस्थान| संपूर्ण जानकारी

स्मार्ट विलेज योजना राजस्थान| संपूर्ण जानकारी

राजस्थान स्मार्ट विलेज योजना|smart village yojana in rajasthan|स्मार्ट विलेज योजना|rajasthan smart village yojana|

प्यारे दोस्तों आज हम अपनी इस आर्टिकल में स्मार्ट विलेज योजना राजस्थान जानकारी देने जा रही है| राजस्थान के मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने राजस्थान स्मार्ट विलेज योजना की शुरुआत की है| हम आपको बताएंगे कि आप किस प्रकार इस योजना का लाभ उठा सकते हैं| राजस्थान स्मार्ट विलेज योजना की संपूर्ण जानकारी इस पोस्ट में उपलब्ध करवाएंगे|स्मार्ट विलेज योजना में कुल 3169 गांवों का चयन किया गया है। इसमें जयपुर से सबसे ज्यादा 233 गांवों को शामिल किया जाएगा। ग्रामीण विकास विभाग ने स्मार्ट विलेज के लिए जिलेवार सूची तैयार की है।

इसमें तीन हजार से 5 हजार, 5 हजार से 10 हजार और दस हजार से ज्यादा आबादी वाले गांवों की श्रेणी बनाई गई है। पांच हजार तक की आबादी वाले 2217 गांव, पांच से 10 हजार तक की आबादी वाले 832 गांव और 10 हजार से ज्यादा आबादी वाले 120 गांवों को smart village yojana in rajasthan के जरिए स्मार्ट बनाया जाएगा।

राजस्थान स्मार्ट विलेज योजना

राजस्थान स्मार्ट विलेज योजना गांवों के चयन के बाद प्रदेश सरकार इन गांवों में भी वो बुनियादी सुविधाएं देने का काम करेगी जो सुविधाएं सभी शहरों में दिखती है।विभाग की ओर से जारी सूची में प्रदेश के सभी 33 जिलों से 3275 गांवों का चयन किया गया है।राजस्थान के गांवों की तस्वीर बदलने के लिए स्मार्टनेस के साथ ही ऐसी सुविधाएं दी जाएगी जो अब शहरों में नजर आती है।

स्मार्ट गांव में एलईडी लाइटें, प्रत्येक पंचायत में खेल के मैदान, कौशल विकास प्रशिक्षण केंद्र, पाइपलाइन से जलापूर्ति, मोबाइल हैल्थ इकाई, गांवों को जोड़ने वाली सड़कों का विकास होगा। वहीं महिलाओं को किचन में राहत देने के लिए एलपीजी गैस कनेक्शन, ई-ग्राम कनेक्टिविटी समेत कई तरह की सुविधाएं भी मिलेगी। जाहिर है सुविधाएं बढ़ने से गांवों में रोजगार भी बढ़ेगा।सरकार ने स्मार्ट विलेज का सपना तो देखा और उसे धरातल पर लाने के लिए गांवों का चयन भी कर लिया गया 

स्मार्ट विलेज योजना राजस्थान  की सूची

अजमेर के 108 गांव लिए गए हैं। इनमें 10 हजार से ज्यादा आबादी वाले 4, पांच से दस हजार की आबादी वाले 26 और तीन हजार से 5 हजार तक की आबादी वाले 78 गांव शामिल हैं। जयपुर से 233 गांवों को चुना गया है। इनमें 10 हजार से ज्यादा आबादी वाले 13, पांच से दस हजार की आबादी वाले 76 और तीन हजार से 5 हजार तक की आबादी वाले 144 गांव शामिल हैं।
नागौर से 210 गांव इस योजना के लिए चुने गए हैं। इनमें इनमें 10 हजार से ज्यादा आबादी वाले 5, पांच से दस हजार की आबादी वाले 61 और तीन हजार से 5 हजार तक की आबादी वाले 144 गांव शामिल हैं।
सीकर से 175 गांव शामिल हैं। जिनमें इनमें 10 हजार से ज्यादा आबादी वाले 6, पांच से दस हजार की आबादी वाले 45 और तीन हजार से 5 हजार तक की आबादी वाले 124 गांव शामिल हैं।
इसी तरह अलवर के 187, बांसवाड़ा के 63, बारां के 29, बाड़मेर के 84, भरतपुर के 138, भीलवाड़ा के 104, बीकानेर के 162, बूंदी के 41, चित्तोड़गढ़ के 50, चूरू के 108, दौसा के 89, धौलपुर के 28, डूंगरपुर के 79, हनुमानगढ़ के 79 और जालौर के 174 गांव शामिल हैं।
प्यारे दोस्तों की जानकारी किस प्रकार लगी अगर आप इसी योजना से संबंधित कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं| हमारे कमेंट बॉक्स में लिख दीजिए| हम उसका उत्तर अवश्य देंगे| आप हमारे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर कर सकते हैं जिससे राजस्थान की योजनाओं के साथ अपडेट रहेंगे

About Vivek Dutta

Check Also

राजस्थान मुर्गी पालन लोन योजना

[लोन] राजस्थान मुर्गी पालन लोन योजना| ऑनलाइन आवेदन| एप्लीकेशन फॉर्म

राजस्थान मुर्गी पालन लोन योजना|राजस्थान मुर्गी पालन ऋण योजना| मुर्गी पालन लोन योजना राजस्थान|Rajasthan murgi …

One comment

  1. Majdor hu sr. Me garib kuckar sakate hu app log

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!