{UIDAI} UIDAI आधार वचरुअल आइडी| आधार कार्ड डाटाबेस रक्षा सिक्योरिटी UIDAI

UIDAI आधार वचरुअल आइडी|आधार कार्ड डाटाबेस रक्षा सिक्योरिटी UIDAI |UIDAI आधार कार्ड डाटाबेस रक्षा सिक्योरिटी|

भारत के प्यारे देशवासियों जैसा कि आप जानते हैं आधार कार्ड हमारा एक जरूरी पहचान पत्र है| और हमारे जरूरी पहचान पत्र  भारत के प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी जी ने आधार कार्ड बनाने की पहल  है|लेकिन अब आधार कार्ड  के बाद आधार कार्ड को लेकर  एक फिर एक नया नियम लेकर पड़ रहा है क्योंकि दोस्तों जैसा कि आप जानते हैं कि आधार कार्ड पर 16 डिजिट का एक नंबर होता है लेकिन ते हुए अपराधिक मामलों को देखते हुए  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी UIDAI आधार वचरुअल आइडी आधार कार्ड डाटाबेस रक्षा सिक्योरिटी UIDAI UIDAI आधार कार्ड डाटाबेस रक्षा सिक्योरिटी लेकर आए हैं|

इस परियोजना की पहले इसलिए करनी पड़ी क्योंकि बढ़ते हुए अपराधों में अपराधी करने वाले लोग  के आधार कार्ड 16 डिजिट का नंबर  लेकर कई जगह पर दूसरे के नाम पर आधार कार्ड डुप्लीकेट  निकाल रहे थे और उसका दुरुपयोग कर रहे थे| इसके चलते बहुत से लोग आधार कार्ड का 16 अंकों का नंबर लेकर दूसरे की आधार कार्ड का दुरुपयोग कर रहे थे|इस सब के चलते बहुत से ज्यादाअपराधों में एक दूसरे की ID यूज करते नजर आ रहे थे| लेकिन आप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी UIDAI आधार वचरुअल आइडी आधार कार्ड डाटाबेस रक्षा सिक्योरिटी UIDAI UIDAI आधार कार्ड डाटाबेस रक्षा सिक्योरिटी परियोजना को लेकर आए हैं|

UIDAI के नियम अनुसार Virtual ID एक 16 अंकों की अस्थायी आइडी होगी, जोकि आधार नंबर के माध्यम से जनरेट की जाएगी। यह प्रक्रिया ऑनलाइन की जा सकेगी। इस Virtual ID के माध्यम से किसी भी व्यक्ति का आधार नंबर नहीं निकाला जा सकेगा। इसका मतलब आप के जानकारी गुप्त रहेगी। इस Virtual ID का इस्तेमाल करने से व्यक्ति से संबंधित उसका नाम, पता, फोटो का सत्यापन हो जाएगा।

UIDAI आधार वचरुअल आइडी  महत्वपूर्ण बातें

  1. वर्चुअल ID एक अस्थायी 16 अंकों की यादृच्छिक संख्या है। यह वर्चुअल आईडी सीमित जानकारी जैसे नाम, पता और फोटो केवल मोबाइल कंपनियों जैसे अन्य अधिकृत एजेंसियों को देगा।
  2. वर्चुअल आईडी की पीढ़ी पर कोई सीमा नहीं है कोई भी व्यक्ति किसी भी संख्या में ऐसे आईडी उत्पन्न कर सकता है।
  3. इसके अलावा एक ताजा आईडी बनाने के बाद, पिछले आईडी को ऑटो रद्द कर दिया गया।
  4. केन्द्रीय सरकार 1 जून 2018 से सभी एजेंसियों के लिए वर्चुअल आईडी की स्वीकृति अनिवार्य बनाने जा रही है, जो प्रमाणीकरण के लिए आधार कार्ड का उपयोग करता है।
  5. इस पुनरावर्तनीय 16 अंकों की संख्या को व्यक्ति की आधार संख्या पर मैप किया जाएगा। तदनुसार, आधार जारी करने वाली संस्था 1 मार्च 2018 से इन नंबरों को स्वीकार करना शुरू करेगी।
  6. कंटेंटेशन और केवाईसी सेवाओं के लिए लोग इस नंबर को वैकल्पिक विकल्प के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं।
  7. इसके बाद, यह संख्या निर्दिष्ट अवधि के लिए या जब तक उपयोगकर्ता इसे बदलता है तब तक वैध रहेगा।
  8. उम्मीदवार इस आईडी को खुद बना सकते हैं। हालांकि, आधार धारक की ओर से इस आईडी को बनाने के लिए कोई अन्य एजेंसी को अनुमति नहीं है।
  9. यूआईडीएआई ने “लिमिटेड केवाईसी” प्रक्रिया भी शुरू कर दी है। इस में, यूआईडीएआई उपयोगकर्ताओं के बारे में किसी भी अनधिकृत एजेंसी (एक विशिष्ट सेवा प्रदान करने) को सीमित मात्रा में जानकारी प्रदान करेगा।
  10. इसके अलावा, सभी एजेंसियां ​​जो विशिष्ट समय-सीमा के भीतर इस नए प्रस्तावित अवधारणा में विस्थापित करने में असमर्थ हैं, उन्हें आर्थिक व्यंग्य का सामना करना होगा।

UIDAI आधार वचरुअल आइडी उपयोग

  • वीआईडी ​​में 16 अंकों का अंतिम अंक एक चेकसम है जो आधार संख्या में इस्तेमाल किए जाने वाले वर्होएफ़ एल्गोरिथम का उपयोग करता है।
  • किसी विशेष समय में, किसी भी आधार संख्या के लिए केवल 1 सक्रिय और मान्य वीआईडी ​​मौजूद होगा।
  • वेरहॉफ एल्गोरिथ्म चेक डिटेक्शन के लिए चेकसम फॉर्मूला है जिसे 1 9 6 9 में डच गणितज्ञ जैकोबस वर्हॉफ ने विकसित किया था।
  • लोग प्रमाणीकरण या केवाईसी सेवाओं के लिए आधार संख्या के बजाय इस वीआईडी ​​का उपयोग कर सकते हैं। इसका उपयोग आधार संख्या के समान है
  • एजेंसियों को डी-डुप्लेक्शन के लिए वीआईडी ​​का उपयोग करने की अनुमति नहीं है।
  • वीआईडी ​​प्रतिसंहरणीय है और एक विशिष्ट वैधता अवधि के बाद इसे एक नए के साथ स्थानांतरित किया जाता है

आज तक, यूआईडीएआई ने लगभग 119 करोड़ आधार कार्ड जारी किए हैं। केन्द्रीय सरकार आधार कार्ड के उपयोग के लिए उत्पन्न सुरक्षा चिंताओं के बाद यह कदम उठाया है। अखबारों की रिपोर्टों के मुताबिक लगभग अरब यूजर्स के आधार डेटा केवल रुपये के लिए उपलब्ध था। 500. तो, केंद्रीय सरकार ने यूनिक आइडेंटीफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (यूआईडीएआई) सिस्टम में खामियों को दूर करने का निर्णय लिया है।

 

UIDAI आधार वचरुअल आइडी आधार कार्ड डाटाबेस रक्षा सिक्योरिटी UIDAI इस वेबसाइट पर क्लिक करें https://uidai.gov.in/

प्यारे दोस्तों UIDAI आधार वचरुअल आइडी| आधार कार्ड डाटाबेस रक्षा सिक्योरिटी UIDAI की जानकारी किस प्रकार लगी अगर आप इससे संबंधित कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं तुम्हारे कमेंट बॉक्स पर लिख दीजिए हम उसका उत्तर अवश्य देंगे आप हमारे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर कर सकते हैं

 

Related Posts
फार्मिंग डेयरी नाबार्ड सब्सिडी आवेदन|how to apply ... फार्मिंग डेयरी नाबार्ड सब्सिडी आवेदन|डेयरी फार्मिंग के लिए नाबार्ड सब्सिडी |how to apply nabard subsidy for dairy farming in hindi इस योजना के तहत ...
जम्मू कश्मीर राशन कार्ड सूची 2018|jammu and kashmi... जम्मू कश्मीर राशन कार्ड सूची|जम्मू कश्मीर न्यू राशन कार्ड लिस्ट 2018|जम्मू और कश्मीर की पात्रता सूची|APL BPL लिस्ट| जम्मू कश्मीर  के प्यारे देशवासि...
प्रगति गैस एजेंसी योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन|pragat... प्रगति गैस एजेंसी योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन| LPG एजेंसी लेने का यह है तरीका| प्रगति योजना 2018 गैस एजेन्सी के आवेदन की पूरी जानकारी|pragati yojana 201...
उत्तर प्रदेश गोपालक योजना शुरु|ऑनलाइन आवेदन... उत्तर प्रदेश गोपालक योजना शुरु|ऑनलाइन आवेदन|यूपी गोपालक योजना|यूपी गोपालक योजना उत्तर प्रदेश के प्यारे देशवासियों उत्तर प्रदेश में बेरोजगार युवाओं ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Yogi Yojana © 2019 Frontier Theme
error: Content is protected !!