Breaking News
Home / uttar pradesh / [रजिस्ट्रेशन] उत्तर प्रदेश सौभाग्य योजना| ऑनलाइन आवेदन

[रजिस्ट्रेशन] उत्तर प्रदेश सौभाग्य योजना| ऑनलाइन आवेदन

उत्तर प्रदेश सौभाग्य योजना|यूपी सौभाग्य योजना| उत्तर प्रदेश मुफ्त बिजली योजना|मुफ्त बिजली योजना यूपी|सौभाग्य योजना उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश सौभाग्य योजना के तहत हर गांव और शहर में हर घर को बिजली मुहैया कराना सरकार का लक्ष्य है. जिनके घर बिजली नहीं पहुंची उनको इस स्कीम के जरिए केंद्र सरकार बिजली की सुविधा देगी. बता दें कि सरकार पहले ही 2019 तक हर घर, हर गांव को बिजली पहुंचाने का संकल्प दोहरा चुकी है उत्तर प्रदेश सौभाग्य योजना के तहत हर गांव और शहर में हर घर को बिजली मुहैया कराना सरकार का लक्ष्य है. जिनके घर बिजली नहीं पहुंची उनको बिजली की सुविधा देना इसका उद्देश्य है. बता दें कि सरकार पहले ही 2019 तक हर घर, हर गांव को बिजली पहुंचाने का संकल्प दोहरा चुकी है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज  नई दिल्ली में प्रधानमंत्री बिजली सहज हर घर योजना- सौभाग्य की शुरुआत की। इसके तहत देशभर के गरीबों को सस्ती बिजली मुहैया कराई जाएगी। यूपी सौभाग्ययोजना के मुताबिक 31 मार्च 2019 तक हर घर तक बिजली पहुंचाकर उन्हें रौशन करना है। इसके अलावा हर घर को 5 एलईडी बल्ब, एक पंखा और एक बैटरी देने की योजना है। इस योजना से शहर और गांवों के गरीबों को फायदा मिलेगा। योजना के मुताबिक बिजली उपकरणों के मरम्मत का खर्च भी पांच साल तक सरकार उठाएगी। इस योजना पर कुल 16 हजार 320 करोड़ रुपये खर्च होंगे। फिलहाल सरकार ने इसके लिए 12 हजार 320 करोड़ रुपये बजटीय आवंटन किया है। इस महत्वाकांक्षी योजना से तीन करोड़ लोगों को लाभ मिलेगा।

उत्तर प्रदेश सौभाग्य योजना

  • उत्तर प्रदेश सौभाग्य योजना के लिए केंद्र सरकार से 60 फीसदी अनुदान मिलेगा जबकि राज्यों को 10 फीसदी लगाना होगा और शेष 30 फीसदी राशि बैंकों से बतौर ऋण लेने होंगे। विशेष राज्यों के लिए केंद्र सरकार योजना का 85 फीसदी अनुदान देगी जबकि उसे अपने मद से मात्र 5 फीसदी लगाने होंगे और बैंकों से सिर्फ 10 फीसदी ही कर्ज लेने होंगे। उत्तर प्रदेश सौभाग्य योजना केंद्र और राज्यों के सहयोग से क्रियान्वित होगी। सौभाग्य योजना में जिन राज्यों पर जोर दिया गया हैगरीब तबके के लोगों के लिए बिजली कनेक्शन मुफ्त में दिया जाएगा. इसके लिए लाभार्थियों का पहचान सामाजिक आर्थिक और 2011 की जाति जनगणना के आकड़ों के मुताबिक की जाएगी.|
  •  इस योजना के तहत बिजली कनेक्शन के साथ हर घर को पांच एलईडी लाइट, एक पंखा और एक बैटरी दी जाएगी.
    सौभाग्य योजना के तहत’ तहत ट्रांसफॉर्मर्स, मीटर्स और तारों के लिए भी सब्सिडी मिलेगी|
     केंद्र ने राज्य सरकारों से बिजलीकरण के प्रॉजेक्ट्स तैयार करने को कहा है जिनके लिए केंद्र सहमति देने के बाद फंड जारी कर देगी.

 अधिकतर उपभोक्ता प्रीपेड बिजली कनेक्शन पर शिफ्ट होंगे जिससे बिजली कंपनियों को हुए घाटे की भरपाई हो जाएगी|
 इसके अलावा बिजली की मांग को पूरा करने के लिए सरकार एनटीपीसी की क्षमता को बढ़ाने पर जोर दे रही है.
राज्य सरकारों की बिजली मांग को पूरा करने के लिए सरकार पावर पर्चेज अग्रीमेंट्स को बढ़ावा देने पर विचार कर रही है|

उत्तर प्रदेश सौभाग्य योजना का उद्देश्य

  • पीएम मोदी ने कहा कि LED बल्बों के वितरण से बिजली के बिलों और खर्चों में कमी आई है|
  • पीएम मोदी ने कहा कि कोयला के उत्पादन में पिछली सरकार के पांच साल की तुलना में पिछले 3 सालों में डेढ़ गुना अधिक उत्पादन हुआ है|
  • पीएम मोदी ने कहा कि उनका लक्ष्य तेल के आयात में 10 फीसदी की कमी करना है. हम क्रूड आयल के आयात में 1 ट्रिलियन डॉलर खर्च करते हैं जो हमारी बजट का तीन गुना है|
  • पीएम मोदी ने कहा कि बिजली का उत्पादन लक्ष्य से 12 फीसदी से अधिक हुआ है|
  • पीएम मोदी ने कहा कि हमने LED बल्बों, पंखों का वितरण किया है|

उत्तर प्रदेश सौभाग्य योजना के लिए पात्रता

  • जो भी व्यक्ति गरीब होगा  वह इस योजना का लाभ उठा सकता है|
  • इस योजना का लाभ BPL और अन्य पिछड़े वर्ग में आते हैं वह भी इस योजना के लिए पात्र होंगे|
  • इस योजना के लिए पूर्वी भारत के रहने वाले लोगों के लिए अधिक महत्व दिया है|
  • इस योजना का लाभ ग्रामीण इलाकों के लोगों को आज आएगा दिया जाएगा|

उत्तर प्रदेश सौभाग्य योजना के लिए जरूरी दस्तावेज

  •  आवेदनकर्ता के पास वोटर कार्ड का होना अनिवार्य है|
  • आवेदन करने के लिए पैन कार्ड भी होना चाहिए|
  • इस योजना में भाग लेने के लिए आधार कार्ड भी होना चाहिए|
  • आवेदनकर्ता अन्य पिछड़ा वर्ग में आता है तो उसका प्रमाण पत्र भी होना चाहिए|
  • इस योजना में भाग लेने के लिए आवेदन कर्ता के पास बीपीएल एपीएल कार्ड  भी होना चाहिए|

 

उत्तर प्रदेश सौभाग्य योजना खास बातें

  • प्रधानमंत्री सहज बिजली और घर योजना यानी सौभाग्य देश के गरीबों और महिलाओं के लिए है
  • देश के 4 करोड़ परिवार या घर ऐसे हैं जिनमें बिजली नहीं है, देश के 25 करोड़ परिवारों में से 4 करोड़ परिवारों के पास बिजली नहीं है, सोचिए कैसी होगी उनकी हालात
  • एडिसन ने कहा था कि हम बिजली को इतना सस्ता बना देंगे कि सिर्फ अमीर ही मोमबत्तियां जला पाएंगे, लेकिन आज भी ये बात सही नहीं हो सकी है.
  • सरकार देश के हर ग्रामीण और शहरी घर में बिजली कनेक्शन जोड़ने का आज संकल्प करती है
  • किसी भी तरह का बिजली शुल्क गरीब से नहीं लेगी, सरकार घर तक आकर बिजली देगी
  • प्रधानों और ऑफिस का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा, गरीबों को सरकार घर-घर जाकर बिजली देगी
  • -16 हजार करोड़ का खर्च इस पर आएगा, इसका बोझ किसी गरीब पर नहीं डाला जाएगा
  • सरकार ने गरीब को सौभाग्य देने का संकल्प हम सिद्ध करेंगे
  • सरकार ने 18 हजार गांवों तक बिजली पहुंचाने का सबक लिया था, जहां आजादी के बाद से बिजली नहीं थी, मैंने लाल किले से संकल्प लिया था.
  • इन 18 हजार गांवों में से सिर्फ 3 हजार गांंव ही रह गए हैं जहां बिजली नहीं है, हम तय समय के अंदर इन बचे हुए गांवों में भी बिजली पहुंचा देंगे.
  • अफसरों का ऐसा है कि अगर हिम्मत से उन्हें आह्वान करें तो वो काम कर देते हैं और उन्होंने कर दिखाया
  • सौभाग्य योजना, सरकार की इच्छाशक्ति का प्रतीक है, देश में व्यवस्था सुधार का भी प्रतीक

 उत्तर प्रदेश सौभाग्य योजना ऑनलाइन आवेदन 

  • उत्तर प्रदेश सौभाग्य योजना में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए इस वेबसाइट पर क्लिक करें
  • इस वेबसाइट पर क्लिक करने के बाद बाईं तरफ आपको होम पेज दिखाई देगा|
  • उसके बाद इस पर क्लिक करिए|
  • अब उत्तर प्रदेश सौभाग्य योजना में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने के लिए इस वेबसाइट पर क्लिक करें

Saubhagya Registration Form

दोस्तों आपको उत्तर प्रदेश  सौभाग्य योजना  किस प्रकार कि  लगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं  इससे संबंधित प्रश्न पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का जवाब जरुर देंगे| आप हमारे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर कर सकते हैं|

 

 

About Vivek Dutta

Check Also

योगी आदित्यनाथ मोबाइल नंबर|व्हाट्सप्प नंबर

योगी आदित्यनाथ मोबाइल नंबर|योगी आदित्यनाथ व्हाट्सप्प नंबर|योगी जी का whatsapp नंबर|योगी आदित्यनाथ कार्यालय पता ईमेल ID|मुख्यमंत्री …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!