Breaking News
Home / sarkaari yojana / उत्तराखंड वैष्णवी सुरक्षा योजना|uttarakhand vaishnavi suraksha yojana in hindi

उत्तराखंड वैष्णवी सुरक्षा योजना|uttarakhand vaishnavi suraksha yojana in hindi

उत्तराखंड वैष्णवी सुरक्षा योजना|वैष्णवी योजना उत्तराखंड |वैष्णवी सुरक्षा योजना|उत्तराखंड वैष्णवी योजना|

उत्तराखंड में देहरादून राज्य में सरकार ने नवजात लड़कियों के लिए वैष्णवी सुरक्षा योजना शुरू करने का ऐलान किया है । इस योजना के अंतर्गत नवजात बेटी के साथ सेल्फी खींचकर भेजने पर परिवार वालो को वैषणवी किट दी जाएगी जिसमें बेटी की तात्कालिक उपयोग की चीजों को शामिल किया जाएगा। इसके लिए नोडल सेंटर तैयार किए जा रहे हैं,जिनका टोल फ्री नंबर जारी किया जाएगा। वैष्णवी सुरक्षा योजना के अंतर्गत माता-पिता को उत्तराखंड की राज्य सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं से जोड़ा जाने वाला वैष्णवी कार्ड प्रदान किया जाएगा। साथ ही माता-पिता का बीमा भी होगा।वैष्णवी सुरक्षा योजना को मुख्यमंत्री की तरफ से हरी झंडी मिलने के बाद महिला एव बल विकास विभाग नवजात बेटिओ को शुरक्षा देने में जुटी है।इस योजना में एएनएम और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के साथ ही नजदीकी सरकारी अस्पतालों का सहयोग लिया जाएगा।संबंधित परिवार को बधाई संदेश दिया जाएगा कि उसने बेटी नहीं बल्कि सृष्टि को जन्म दिया है|

उत्तराखंड वैष्णवी सुरक्षा योजना

उत्तराखंड सरकार बेटियों के लिए एक और अनूठी योजना लाने जा रही हैं। इस योजना का नाम वैष्णवी योजना है और इसके अंतर्गत आपको अपनी नवजात बेटी के साथ सेल्फी खींचकर भेजने पर वैष्णवी किट दी जाएगी। इस किट में नवजात के लिए नए कपड़े और अन्य उपयोग की वस्तुएं शामिल होंगी। सरकार सेल्फी के लिए परिवार को बधाई संदेश भी भेजेगी। महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रेखा आर्य ने इसकी जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि इस योजना से लाभार्थी परिवार को वैष्णवी कार्ड देकर विभिन्न योजनाओं से जोड़ा जाएगा और माता-पिता का बीमा भी होगा। 

उत्तराखंड वैष्णवी सुरक्षा योजना का लाभ

किसी भी परिवार में बेटी के जन्म लेने पर परिजन उसके साथ सेल्फी खींचकर भेजेंगे। इसके लिए नोडल सेंटर तैयार किए जा रहे हैं, जिनका टोल फ्री नंबर जारी किया जाएगा। सेल्फी मिलते ही 24 घंटे के भीतर एएनएम व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता अथवा नजदीकी सरकारी अस्पताल से कर्मचारी परिवार के पास पहुंचेगा। कर्मचारी परिवार के साथ एक सेल्फी लेकर नोडल अधिकारी को भेजेंगे। इसके बाद संबंधित परिवार को मुख्यमंत्री और विभागीय मंत्री बधाई संदेश आएगा। इसके बाद एएनएम व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता अथवा नजदीकी सरकारी अस्पताल से कर्मचारी परिवार को वैष्णवी किट सौपेंगी।  तहत सरकार एक और पहल करने जा रही हैं। इसके तहत नवजात बेटी के साथ सेल्फी खींचकर भेजने पर संबंधित परिवार को मिलेगी वैष्णवी किट, जिसमें शामिल होंगी बेटी के तत्काल उपयोग की वस्तुएं। साथ ही सरकार उस परिवार को बाकायदा बधाई संदेश भी भेजेगी। देहरादून से हरिद्वार तक साइकिल यात्रा कर बेटी बचाओ का संदेश देने वाली महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रेखा आर्य यह पहल करने जा रही हैं। योजना को नाम दिया गया है वैष्णवी। वह कहती हैं कि योजना के तहत लाभार्थी परिवार को वैष्णवी कार्ड देकर विभिन्न योजनाओं से भी जोड़ा जाएगा। साथ ही माता-पिता का बीमा भी होगा।वैष्णवी योजना के लिए मुख्यमंत्री की ओर से हरी झंडी मिलने के बाद महिला एवं बाल विकास विभाग इसे अंतिम रूप देने में जुटा है। विभागीय मंत्री रेखा आर्य के अनुसार योजना में एएनएम और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के साथ ही नजदीकी सरकारी अस्पतालों का सहयोग लिया जाएगा। 

उत्तराखंड वैष्णवी सुरक्षा की खास बातें

  • 24 घंटे के भीतर एएनएम व आगनबाड़ी कार्यकर्ता अथवा नजदीकी सरकारी अस्पताल से कर्मचारी पहुंचेगा लाभार्थी के पास|
  • लाभार्थी के साथ कर्मचारी एक सेल्फी लेकर नोडल अधिकारी को भेजेंगे|
  • इसके बाद मुख्यमंत्री और विभागीय मंत्री का आएगा फोन पर आएगा बधाई संदेश|
  • फिर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता लाभार्थी को सौंपेगी एक वैष्णवी किट और नए कपड़े|
  • इसके बाद लाभार्थी के पास 24 घंटे के भीतर एएनएम व आगनबाड़ी कार्यकर्ता अथवा नजदीकी सरकारी अस्पताल से कर्मचारी पहुंचेगा।
  • फिर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता लाभार्थी को एक वैष्णवी किट और नए कपड़े दिए जायेंगे।
  • इसके बाद मुख्यमंत्री और विभागीय मंत्री द्वारा फोन पर बधाई संदेश दिया जायेगा।

इस योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए इस वेबसाइट पर क्लिक करें http://socialwelfare.uk.gov.in/

दोस्तों आपको उत्तराखंड वैष्णवी सुरक्षा योजना  किस प्रकार कि  लगी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं  इससे संबंधित प्रश्न पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का जवाब जरुर देंगे| आप हमारे फेसबुक पेज को लाइक और शेयर कर सकते हैं|

About Vivek Dutta

Check Also

राजनाथ सिंह पोर्टल पेंसिल चाइल्ड लेबर योजना|

राजनाथ सिंह पोर्टल पेंसिल चाइल्ड लेबर योजना|चाइल्ड लेबर योजना|पोर्टल पेंसिल चाइल्ड लेबर योजना बच्चे देश …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!